हमें आजादी त्याग और बलिदान से मिली है – रवि कुमार

DSC_1148

विश्व संवाद केंद्र सोनीपत – सोमवार  गीता विद्या मंदिर, गोहाना के प्रांगण में 70वां स्वतंत्रता दिवस समारोह बड़े हर्ष और उल्लास के साथ मनाया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री राजवीर सिंह जी दहिया  समाजसेवी ने  ध्वजारोहण किया। कार्यक्रम की शुरुआत सरस्वती वन्दना से हुई। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता श्रीमान  रवि जी – सहसंगठन मंत्री, हिन्दू शिक्षा समिति रहे। सर्वप्रथम प्राचार्य नवनीत जी ठाकुर ने सभी गणमान्य अतिथियों का समारोह में पधारने पर हार्दिक स्वागत एवं अभिनंदन किया। इस अवसर पर विद्यालय के भैया – बहिनों ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों में मनमोहक प्रस्तुति दी। विद्यालय की बहिनों ने समूहगान के माध्यम से सभी का हृदय गद्गद् किया। विद्यालय की छात्रा सोनू ने देशभक्ति से ओत – प्रोत कविता की प्रस्तुति से सभी का मन मोह लिया।

इस सुअवसर पर मुख्य वक्ता माननीय रवि जी ने अपने उद्बोधन में बताया कि हमारा भारत वर्ष प्राचीन काल से ही अपने अद्वितीय आदर्शों, सिद्धांतों और जीवन मूल्यों से परिपूर्ण रहा है। भारत को आजादी आसान राह से नहीं मिली है बल्कि अपने अनेक बलिदानियों के त्याग और साधना से प्राप्त हुई है। उन्होंने ये भी कहा कि हम वास्तव में गुलाम नहीं थे और हम पिछले 1200 वर्षांे से विदेशी आक्रांताओं से लगातार संघर्ष करते आ रहे हैं। आज भी हमें पुनः संघर्ष करने की आवश्यकता है क्यांेकि आज हमारे देश में ही अनेकों कुरीतियाँ भयंकर रुप धारण करती जा रही हैं। इसलिए इस आजादी पर्व पर विद्यार्थियों को आज के भारत के अनुरुप देश सेवा के रुप में कर्तव्यनिष्ठता और लगन के साथ पढ़ना चाहिए और एक सभ्य नागरिक के रुप में अपना प्रत्येक कार्य देश सेवा में लगाना चाहिए।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री राजवीर सिंह दहिया ने कहा कि हमें जो आजादी मिली है वास्तव में यह आजादी नहीं है वास्तविक रुप में आजादी उस दिन होगी जब हम देश में उत्पन्न विभिन्न समस्याओं, विसंगतियों को जड़ से उखाड़ फेकेंगे में अपने बच्चों को सभ्य, सुसंस्कारी, समरस आदि गुणों से ओत – प्रोत करना होगा, तभी भारतवर्ष फिर से विश्वगुरु बन पाएगा। उन्होंने सभी विद्यार्थी भैया – बहनों को देश सेवा के लिए तत्पर रहने का आह्वान किया।

छोटे – छोटे बच्चों ने ‘गुलाम भारत से आजाद भारत’ का एक मार्मिक एवं सजीव चित्रण करते हुए सभी को भाव विभोर कर दिया एवं शपथ दिलाई कि हम आजादी के वास्तविक अर्थ को समझकर उसे बनाए रखेंगें और आधुनिक समाज में फैली कुरीतियों को दूर करने में अपना पूरा सहयोग देंगे।
स्वच्छ भारत का संदेश देते हुए एक लघुनाटिका का आयोजन कर लोगों को स्वच्छता और स्वास्थ्य बनाए रखने की अपील की गई।
इस रंगारंग कार्यक्रम में धन्यवाद ज्ञापन में विद्यालय प्रबंध समिति के अध्यक्ष एडवोकेट राम कुमार जी मित्तल ने सभी अतिथिगण का कार्यक्रम में उपस्थित होने के लिए धन्यवाद किया और स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएँ दी। उन्होंने सभी विद्यार्थी भैया – बहनों को विद्यालय संस्कारों के अनुरुप जीवन जीने को कहा और बताया कि देश सेवा ही सर्वोपरि सेवा है। विद्यालय के प्राचार्य श्री नवनीत जी ठाकुर ने सभी को आजादी पर्व की शुभकामनाएँ दी और सभी को प्रसाद ग्रहण करके ही घर जाने का आग्रह किया।
पूर्व छात्रों में दीपक नरवाल कार्यक्रम में पधारे। इसके अतिरिक्त छात्रा ईशिता शर्मा, निष्ठा मित्तल, कीर्ति को कक्षा बारहवीें के बोर्ड के उत्कृष्ट परिणाम के लिए पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।

DSC_1180

editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *