सेवा व्यक्ति को नर से बना देती है नारायण : जैन

सेवा भारती ने किया पक्षी विहार व पुस्तकालय का उद्घाटन

विसंके, जींद। सेवा समाज का एक ऐसा कार्य है जो व्यक्ति को नर से नारायण बना देता है। सेवा भारती इसी सेवा भाव से समाज में आगे बढ़ रही है। सेवा भारती द्वारा पक्षियों के रहने के लिए एक हजार घौंसले बनाए जाएंगे। जिन्हें शहर के पार्कों के साथ-साथ विभिन्न स्थानों पर लगाया जाएगा। यह बात सेवा भारती के अखिल भारतीय संगठन मंत्री राकेश जैन ने सोमवार को जिला सेवा भारती के कार्यालय में पक्षी विहार व पुस्तकालय का उद्घाटन करते हुए कही।
राकेश जैन ने कहा कि समाज में वंचित बंधुओं को मुख्य धारा से जोडऩे के लिए सेवा भारती शिक्षा, स्वावलंबन, स्वास्थ्य व अन्य प्रकल्पों के माध्यम से सेवा कर रही है। आज पूरे देश में सेवा भारती के एक लाख 75 हजार से अधिक सेवा कार्य चल रहे हैं। उन्होंने महात्मा बुद्ध का उदाहरण देते हुए कहा कि सिद्धार्थ सम्राट थे लेकिन जब उन्होंने समाज की दशा देखी तो उनके जीवन में ऐसा परिवर्तन हुआ कि वह सम्राट से महात्मा बन गए। आज 35 देशों में भगवान महात्मा बुद्ध के अनुयायी हैं। प्रांत सेवा प्रमुख कृष्ण ने कहा कि पक्षी विहार जैसी कल्पना सेवा भारती के कार्यकर्ताओं की पशु, पक्षी व मानव के कल्याण की भावना को दर्शाती है। इस मौके पर सेवा भारती के सभी पदाधिकारी मौजूद रहे।

editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *