सभ्य समाज के निर्माण में नारी का ही योगदान – डॉ ममता

img-20160911-wa0034img-20160911-wa0038

विश्व संवाद केंद्र -मुरथल, सोनीपत , राष्ट्रीय सेविका समिति का दो दिवसीय किशोरी शिविर का आयोजन मुरथल में किया गया, जिसमें जिले से 117 किशोरियो ने भाग लिया, शिविर में किशोरियों को शारीरिक कार्यकर्म में मार्शल आर्ट दंड संचालन योगासन का अभ्यास किया.

इस दोरान प्रान्त प्रचारिका डॉ ममता बहन जी ने बताया की नारी घर की प्रथम वैध है, जो घर में हर जन की चिंता करती है ओर नारी ही एक सभ्य समाज का निर्माण करती है, क्योंकि वही वीर वीरांगनाओ से प्रेरित करके अपने पुत्रों में देश भक्ति की भावना भरती है,

कार्यकर्म के समापन सत्र में मुख्य वक्ता प्रान्त सेवा प्रमुख बहन पदमेश बवेजा ने बताया की नारी राष्ट्र की निर्मात्री होती है, उन्होंने बताया की ऋग्वेद को रचने में 401 संतो का मार्गदर्शन मिला जिनमे से 21 महिला संतो ने ऋग्वेद सुतिओं को रचने में सहयोग किया, उन्होंने बताया की प्राचीनकाल हो या वर्तमानकाल में गार्गी , मैत्री, विदुषी, कल्पना चावला, सुनीता विलियम्स या फिर ईशा खरे ने अपने – अपने कार्य में भारतीय बहनों ने दुनिया से लोहा मंगवाया है,

तहसील कार्यवाहीका गीता जी ने कार्यकर्म में हिस्सा लेने आई हुई बहनों को अपने – अपने स्थानीयसत्र पर शाखा लगाने का आह्वान किया क्योकि रोजाना लगने वाली शाखा से हमारे अंदर आपसी प्रेम, देश भक्ति की भावना पैदा होती है, ओर शाखा पद्दति से ही बहनों हमारा निर्माण होता है

img-20160911-wa0040

editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *