शिक्षकों व विधार्थियों को सिखाये कला के गुण

हरियाणा कला परिषद द्वारा किया गया 15 दिवसीय कार्यशाला का आयोजन 

गुरुग्राम, विसंके। हरियाणा कला परिषद द्वारा आयोजित सृजनात्मक बहुकला कार्यशाला के दौरान शिक्षकों को भारतीय कला संस्कृति पर आधारित नाटक कला, मुखौटा बनाने की कला, छाया प्रतिबिम्ब एवं छाया चित्रों की कला सम्बन्धी प्रशिक्षण दिया गया। कार्यशाला के दौरान सभी शिक्षक बड़े ही लगन से कार्यशैली को सिखा। इस कार्यशाला में बच्चों को भी कक्षा में किताबों को बनाने तथा किताबों को सजाने की कला सम्बन्धी ज्ञान दिया गया। इस प्रशिक्षण से सभी शिक्षकों ने यह महसूस किया कि इस विधि से कक्षा में पढ़ने से पाठ्यक्रम मे एक विशेष आकर्षण आ जाता है। कार्यशाला में मूक अभिनय के माध्यम से दर्शकों के समक्ष कहानी में जान डालने की कला सिखाई गई। कार्यशाला के मुख्य प्रशिक्षक सुभाशीष नियोगी ने इस कार्यशाला में सम्पूर्ण समर्पण से कार्यशाला मे एक नया आयाम पैदा किया।

कार्यशाला में मौजूद शिक्षक और विधार्थी।

editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *