राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा आयोजित 7 दिवसीय प्राथमिक शिक्षा वर्ग शिविर का हुआ समापन


विश्व संवाद केंद्र, कैथल, 6 जनवरी () : राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ द्वारा आयोजित किए जा रहे 7 दिवसीय प्राथमिक शिक्षा वर्ग शिविर का आज समापन हो गया। समापन अवसर पर संघ के सह-प्रांत प्रचारक श्री मान विजय कुमार ने स्वयं सेवकों को संबोधित किया व स्वयं सेवकों को भारत को विश्व का सर्वश्रेष्ठ राष्ट्र बनाने के लिए राष्ट्रीय चरित्र का होना जरुरी बताया। सह-प्रांत प्रचारक ने बताया कि संघ द्वारा देश के समृद्ध एवं वैभवशाली इतिहास की जानकारी व खेलों सहित अन्य शारीरिक क्रियाओं के माध्यम से तन व मन को स्वस्थ रखने सहित समाज के लिए काम करने हेतु प्रेरित करने के लिए संघ द्वारा प्रत्येक वर्ष में 2 बार प्राथमिक शिक्षा वर्ग आयोजित किए जाते हैं, जिसमें सुबह 5 बजे से रात्रि 10 बजे तक की दिनचर्या रहती है। इस दौरान स्वयं सेवक अपने खुद के खर्च पर प्रशिक्षण लेते हैं। यह प्रशिक्षण शिविर 30 दिसम्बर को दोपहर 12 बजे शुरु किया गया था। उन्होंने बताया कि शिविर में 48 गांवों व नगर से 132 स्वयं सेवकों ने भाग लिया, जिसमें 11 लोग घोष में शामिल रहे, वहीं 11 शिक्षक व 28 स्वयंसेवक प्रबंध कार्य में शामिल थे। शिविर में भाग लेने वाले स्वयं सेवक अपने कपड़े, गणवेश व बर्तन और बिस्तर भी अपना लेकर आते हैं। शिविर के दौरान लगभग पौने 4 घंटे का शारीरिक कार्य रहता है। इसके अलावा देश को मजबूत बनाने सहित राष्ट्रीय चरित्र बनाने, देशभक्ति की भावना को मजबूूत करने, संपूर्ण व्यक्तित्व विकास जैसे विषयों पर बौद्धिक के दौरान जानकारी दी जाती है। इसके अलावा चर्चा का समय भी रहता है, जिसमें अलग-अलग विषयों पर स्वयंसेवक चर्चा करते हैं। पूरे प्रदेश में 25 दिसम्बर से 10 जनवरी तक ऐसे 28 शिक्षा वर्ग आयोजित किए जा रहे हैं, जिसमें स्वयंसेवकों सहित संघ से बाहर के लोग भी संघ के बारे में जानकारी हासिल कर रहे हैं। यह प्रशिक्षण शिविर एन.आई.आई.एल.एम. में आयोजित किया गया, जिसमें बाहर से भी लोग पधारे और उन्होंने स्वयं ऐसे शिक्षा वर्ग में भाग लेने का निर्णय लिया।

 

editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *