मेवात की भूमि ने दिया भाईचारा एवं सद्भावना का संदेश

विश्व संवाद केंद्र हरियाणा। मेवाती तहजीब एवं सद्भावना विकास मंच द्वारा बिछौर ग्राम में विचार गोष्ठी एवं सद्भावना सम्मेलन का आयोजन किया गया। जिसमे सैकड़ों लोगों ने भाग लिया। कार्यक्रम की अध्यक्षता  हथनगांव के पूर्व सरपंच अहमद हमीद जी ने की और मुख्य वक्ता राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह प्रान्त संघचालक माननीय पवन जिंदल जी रहे। मोहम्मद इकबाल जेलदार सरपंच ग्राम बिछौर ने सभी अतिथियों का स्वागत किया।
पवन जी ने संघ द्वारा समाज और देश हित में किये जा रहे कार्यों को विस्तार से बताया और कहा ‘संपूर्ण स्वतंत्रता, समता और बंधुता वाले समाज का निर्माण करना ही संघ का ध्येय है’। आज संघ के विचार को सभी धर्मों ने मान्यता दी है क्योंकि संघ किसी धर्म या व्यक्ति विशेष की नहीं अपितु राष्ट्र हित और समाज हित की बात करता है। कार्यक्रम में संघ के गुरुग्राम विभाग प्रचारक शिवकुमार जी ने मेवाती तहजीब व मेवात की गौरपूर्ण इतिहास की वर्णन करते हुए कहा मेवात की संस्कृति, भाईचारा एवं स्वाभिमानी परंपरा ने सैंकड़ो वर्षों से राष्ट्रीयता की मशाल को जलाकर सद्भावना की ऊर्जा को पूरे देश में पहुंचाने का काम किया है। इसी मेवाती तहजीब के दर्शन को लोगों तक पहुंचाने के लिए और मेवात के गौरवपूर्ण इतिहास की जानकारी को सामान्य जन तक पहुंचाने के लिए संघ द्वारा ‘मेवात अध्ध्यन केंद्र’ का निर्माण किया गया है जो मेवात से जुड़े साहित्य को सामने लाने का प्रयास करेगा। लियाकत अली राणा ने शहीद काकू राणा के बारे में बताया और राष्ट्रहित के लिए मेवात की बलिदानी परंपरा के बारे में सभी को बताया। खुर्शीद राजाका ने

कार्यक्रम को सम्बोधित करते वक्त

हिन्दू मेव एकता का संदेश दिया और कहा कि डॉ. कलाम द्वारा दिखाये रास्ते से ही देश और विशेषकर मुस्लिम समाज की तरक्की मुमकिन है। सभी उपस्थित लोगों ने समाज में भाईचारा और सद्भवना बनाये रखने और राष्ट्र हित में कार्य करने का एक मन से समर्थन किया। ‘मेवाती तहजीब  व् सदभावना विकास मंच’ ने सभी अतिथियों एवं स्थानीय लोगों का धन्यवाद करते हुए कहा ऐसे कार्यक्रम भविष्य में भी आयोजित होंगे जो संवाद प्रवाह बनाये रखने के लिए जरुरी है। इसके अलावा श्याम सुंदर जी पिनगवां , अब्दुल हमीद पूर्व सरपंच हथनगॉव, नरेश सिंगला संयोजक मेवाती तहजीब मंच, सुरेंद्र उजिना, धर्मवीर सैनी पुन्हाना,  डॉ. राजेन्द्र प्रसाद तावडू भी उपस्थित रहे

कार्यक्रम में मौजूद मुस्लिम समाज के लोग

editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *