मांगों को लेकर किसान संघ ने किया प्रदर्शन

विसंके, जींद। भारतीय किसान संघ ने मांगों को लेकर शहर में रोष प्रदर्शन किया। प्रदर्शन का नेतृत्व प्रदेशाध्यक्ष ओम सिंह ने किया।  इस अवसर पर उनके साथ सुरेंद्र सिंह प्रदेश संगठन मंत्री भी शामिल रहे। इस अवसर पर संगठन मंत्री ने कई गांव के अंदर जमीन अधिकरण का मुद्दा भी उठाया।

प्रदेशाध्यक्ष ओम सिंह ने प्रदर्शन को सम्बोधित करते हुए कहा कि किसानों पर कर्ज का बोझ लगातार बढ़ता जा रहा है। किसानों को उनकी उनकी फसल का उचित रेट नहीं मिलने के कारण किसान की हालत दयनीय हो चुकी है। फसल में लागत अधिक होने तथा आमदनी कम होने के कारण किसान कर्ज के दलदल में धंसता जा रहा है। उन्होंने सरकार से मांग करते हुए कहा कि सरकार जल्द से जल्द स्वामीनाथन रिपोर्ट लागू कर किसानों को फसल के उचित रेट निर्थारित करे। सुरेन्द्र सिंह ने जमीन अधिग्रण का मुद्दा उठाते हुए कहा कि एक हाण्डी में दो पेट नहीं चलेंगे। एक गांव को 90 लाख और दूसरे गांव को 12 लाख यह पूरी तरह से किसानों का शोषण है और इस शोषण को भारतीय किसान संघ चलने नहीं देगा। यदि सरकार ने 15 दिन में कोई उपयुक्त निर्णय नहीं किया तो सरकार इसकी स्वंय जिम्मेवार होगी इस रोष प्रदर्शन में प्रदेश उपाध्यक्ष मास्टर ईश्वर सिंह ने किसानों को सुझाव दिया कि आने वाले समय में धान को किसान सफाई से लेकर आएं और पूरा भाव ले। इस रोष प्रदर्शन में सुन्दर लाल विभाग संगठन मंत्री, जिला  अध्यक्ष शमशेर सिंह व सुनील जिला मंत्री, रमेश कोषाध्यक्ष व अमित व अन्य किसान संघ के नेता उपस्थित रहे। प्रदर्शन के बाद प्रशासनिक अधिकारीयों के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित किया गया|

मांगों को लेकर शहर में प्रदर्शन करते किसान संघ के सदस्य

editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *