भारतीय तकनीक विश्व में सर्वश्रेठ

विश्वकर्मा दिवस पर अभियंता हुए सम्मानित

विसंके, गुरुग्राम| पाटलिपुत्र सांस्कृतिक चेतना समिति गुरुग्राम द्वारा विश्वकर्मा पूजा के अवसर पर एक विशाल सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया, जिसमे देवों के अभियंता भगवान् विश्वकर्मा की स्तुति की गयी | कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्याअतिथि हरियाणा कला परिषद के निदेशक अजय सिंघल, संस्कार भारती के प्रांतीय संरक्षक मेजर दीनदयाल हरियाणा के  पूर्व डीजीपी विजिलेस शील मधुर ने दीप प्रज्वलन के साथ किया| शील मधुर ने अपने संबोधन में कहा की भोजपुरी की संस्कृति देश को एक जूट करती है, भगवान विश्वकर्मा की पूजा भारतीय तकनीक की पूजा है जो विश्व में सर्वश्रेष्ठ है | इस अवसर पर बोलते हुए अजय सिंघल ने कहा की की विश्वकर्मा ने आज से लाखो वर्ष पहले त्रेता में सोने की लंका व पुष्पक विमान का निर्माण कर पूरे विश्व में भारत की संस्कृति का लोहा मनवाया| इस अवसर पर शहर के 10 वरिष्ठ अभियंताओं को सम्मानित भी किया गया | कार्यक्रम में पाटलिपुत्र सांस्कृतिक चेतना समिति  के ममता सिंह अमृत को उनके बेंगलूर स्थानांतरण पर विदाई भ दी गयी | इस अवसर पर पाटलिपुत्र सांस्कृतिक चेतना समिति के अध्यक्ष संजय सिंह, मंत्री संत कुमार, कोष प्रमुख निवाश ओझा, प्रकाश राय, बीएन लाल, बीके मिश्रा, राजेश मंडल, सत्यनारायण गुप्ता, यशवंत शेखावत, मनोज शर्मा, आशुतोष सहित अन्य गणमान्य लोग उपस्थित रहे | मंच का संचालन ममता सिंह अमृत ने किया|

editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *