भारतीय किसान संघ ने शुगर मिल के खिलाफ किया प्रदर्शन

विसंके, सोनीपत। शुगर मिल में पेराई की क्षमता बढ़ाने के लिए भारतीय किसान संघ के नेतृत्व में 173 गांवों के किसानों ने जोरदार प्रदर्शन किया। विभिन्न गांवों से किसान अपने ट्रैक्टरों के साथ शुगर मिल से प्रदर्शन करते हुए लघु सचिवालय पहुंचे। वहां किसानों ने उपायुक्त केएम पांडुरंग के माध्यम से मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन प्रेषित किया। किसानों का कहना है कि यदि 21 अगस्त तक मांगें पूरी नहीं हुई तो किसान परिवार के साथ सड़कों पर उतरेंगे।

भारतीय किसान संघ के महामंत्री वीरेंद्र बढ़खालसा ने कहा कि पिछले वर्ष नवंबर में मुख्यमंत्री द्वारा शुगर मिल में पेराई क्षमता बढ़ाने का वादा किया गया था। उसके बावजूद अभी तक क्षमता बढ़ाने को लेकर कोई कार्रवाई नहीं की गई। जिस कारण से किसानों में रोष पनप रहा है। उन्होंने कहा कि मिल की पेराई क्षमता कम होने की वजह से सोनीपत शुगर मिल में बहुत कम मात्र में गन्ना लिया जाता है। इसकी वजह से बहुत से किसानों का गन्ना खेतों में पड़ा रहता है। जब कहीं रास्ता नजर नहीं आता तो किसान यूपी की तरफ रूख कर लेते हैं। यहां पर किसान अपने गन्ने को मजबूरीवश सस्ते दाम पर बेच देते हैं। इससे किसानों को प्रतिवर्ष नुकसान हो रहा है। उन्होंने कहा कि शुगर मिल घाटे में होना किसी घोटाले की तरफ संकेत कर रहा है। इसलिए मिल की पूर्ण रूप से जांच भी होनी चाहिए। उपायुक्त ने किसानों का ज्ञापन लेते हुए कहा अब सत्र शुरू होने से करीब दस दिन पहले ही गन्ना मिल में पहुंचना शुरू हो जाएगा। मिल की क्षमता को लेकर उन्होंने कहा कि शीघ्र ही उच्चाधिकारियों के साथ बैठक कर क्षमता बढ़वाई जाएगी।

मांगों को लेकर ट्रेक्टरों में शहर में प्रदर्शन करते किसान संघ के सदस्य

मांगों को लेकर शहर में प्रदर्शन करते किसान संघ के सदस्य

editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *