प्रतिभा किसी की धरोहर नही होती उसे मात्र तराशने की जरूरत होती है : अजय सिंहल

 

हरियाणा कला परिषद व संस्कार भारती का आठ दिवसीय नि:शुल्क शिविर कैम्प का धूमधाम से समपन

बच्चो और साधको ने दी मन मोहक प्रस्तुति 

हांसी, विसंके। प्रतिभा किसी की धरोहर नहीं होती जरूरत है तो बस बच्चों के अन्दर छिपी प्रतिभा को तरसने की। ये विचार हरियाणा कला परिषद के निर्देशक अजय सिंहल ने परिषद और संस्कार भारती हांसी शाखा के संयुक्त तत्वावधान में रिनॉल्ट ब्लूमिंग स्टार किड्स वैली स्कूलमें आयोजित कैम्प में बच्चों को सम्बोधित करते हुए कहे। कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्यातिथि ने  दीप प्रज्जवलन कर किया। संस्कार भारती के अध्यक्ष जसवंत गोयल ने मुख्यअथिति व अन्य अथितियों का स्वागत किया। मुख्य अतिथि अजय सिंघल ने कैम्प के प्रतिभगियो व साधको को प्रशस्ती पत्र वितरित किए।

मुख्यातिथि ने कहा कि बच्चों के अन्दर असीम प्रतिभा छिपी होती है। बस जरूरत है तो उस प्रतिभा को पहचान कर उसे निखारने की। इस तरह के कार्यक्रम बच्चों को आगे बढ़ने के लिए एक अच्छा प्लेटफोर्म हैं। इसलिए समय-समय पर इस तरह के कार्यक्रमों का आयोजन बेहद जरुरी है। अध्यक्ष जसवंत गोयल बताया कि इसके कैम्प में नृत्य विद्या, नाट्य विद्या, संगीत विद्या, गायन, मंच संचालन विद्या, आर्ट एंड क्राफ्ट विद्या के प्रशिक्षित ट्रेनरों द्वारा बच्चों को कला के गुर सिखाए गए हैं। समापन समारोह मे कैम्प में हिस्सा लेने वाले बच्चो व साधको ने अपनी भव्य प्रस्तुति दी। मातृ शक्ति प्रमुख एवं संयोजक गुंजन जैन ने मुख्य अथिति अजय सिंहल, रिनाँल्ट ब्लूमिंग स्टार किड्स वैली स्कूल के प्रबन्धकों, अध्यापकों व अभिवावको का धन्यवाद किया । मंच संचालन मोहन लाल बंसल व राजीव बंसल ने संयुक्त रूप से किया। इस अवसर पर उपप्रधान राजेश बंसल, बंजरंग जैन राजीव बंसल, मोहनलाल बंसल, सह संयोजिका वर्षा वर्मा, प्राचार्या पूजा मुंजाल, वैष्णवी डोलिया, टीना बंसल,  आधार स्पेशल स्कूल की प्राचार्या सुप्रीति सैनी, अजय भट्टी, रंजना कक्ड अनिता शर्मा सहित काफी संख्या में संस्कार भारती के विभिन्न विद्याओं के पदाधिकारी व सदस्य उपस्थित रहे।

 नन्हे कलाकारो द्वारा बनाई गई रंगोली का अवलोकन करते मुख्य अतिथि व अन्य

कार्यक्रम में मुख्यातिथि के साथ मंच पर मौजूद बच्चे

 

editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *