नाटाकों के माध्यम से छुपी हुई प्रतिभाओं का खोजना है उद्देश्य : शर्मा

संस्कार भारती का तीन दिवसीय नाट्य महोत्सव संपन्न
हांसी (विसंके)। संस्कार भारती हांसी व हरियाणा कला परिषद के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित तीन दिवसीय नाट्य महोत्सव में दिल्ली संस्कार भारती के कलाकारों द्वारा प्रसिद्ध कथा एक कंस की नाटक के सफल मंचन के साथ कार्यक्रम का समापन किया गया। समापन अवसर पर मुख्यातिथि के रूप में हरियाणा कला परिषद के उपाध्यक्ष सुदेश शर्मा तथा विशिष्ट अतिथि के रूप में संस्कार भारती के नाट्य विद्या प्रमुख सुरेश वशिष्ठ ने शिरकत की। कार्यक्रम का सफल संचालन साहित्य प्रकोष्ठ के संयोजक राजीव बंसल ने किया। संस्कार भारती के अध्यक्ष जसवंत गोयल व महासचिव राजीव कौशिक ने अतिथिगण का पुष्प मालाओं से अभिनंदन किया। सुदेश शर्मा ने कहा कि स्वर्ण जयंती के इस वर्ष में हमने हरियाणा प्रदेश के गांव-गांव व शहर-शहर जाकर नुक्कड़ नाटकों व सांगों का मंचन करना है ताकि छुपी हुई प्रतिभाओं को खोजा जा सके। उत्सव के दूसरे दिन संस्कार भारती फरीदाबाद द्वारा प्रस्तुत ‘पासे पलट गये’ नाटक ने भी दर्शकों पर अपनी गहरी छाप छोड़ी।

मंच पर प्रस्तुति देते कलाकार।

नाट्य कलाकारों को सम्मानित करते मुख्य अतिथि व अन्य।

editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *