गुरूग्राम जाम में स्वयंसेवकों के कार्य की संकलित जानकारी

RSS in action गुरूग्राम में सेवा कार्य

लगभग 200 कार्यकर्ता अलग अलग स्थानों पर टोली बनाकर कार्य में लगे

लगभग 6000 बिस्कुट के पैकेट व नमकीन के पैकेट वितरित

2000 बोतलें व मयूर जग के माध्यम से पानी की आपूर्ति, आवश्यक दवाइयाँ भी उपलब्ध करवाईं

कार्यकर्ता सुबह 8 बजे से सायं 5 बजे तक बिना रुके, बिना थके, घुटनों से ऊपर तक पानी में सेवारत रहे

swayamsewak

एक स्वयंसेवक का अनुभव …

अपने लगभग 200 कार्यकर्ता पूरे दिन सुबह 8बजे से बादशाहपुर, हौंडा चौक, सोहना रोड पर ट्रैफिक की समस्या को हल करने में लगे हुए थे. मैं भी उनमें से एक था. स्वयंसेवकों ने लोगों के बीच पानी की बोतल, बिस्कुट के पैकेट, दवाइयां, छोटे बच्चों के लिये दूध भी बांटा. काफी देर की कड़ी मेहनत के बाद हालात सामान्य हुए. ऐसी मुश्किल परिस्थिति में प्रमुख कार्यकर्ताओं का मार्ग दर्शन मिला, जिसकी वजह से हम इतने बुरे ट्रैफिक को कंट्रोल कर पाए.

आम आदमी के बीच संघ की क्या छवि है, इसका भी हमें आज पता चला. लोगों ने संघ के कार्यकर्ताओं को देखकर खुशी महसूस की । वहां पर लोगों ने कार्यकर्ताओं को देखकर भारत माता की जय के नारे भी लगाए.

सेना के जवानों की बस में से सभी सैनिकों ने अपना आशीर्वाद दिया. वो पल काफी भावनात्मक और उत्साह भरने वाला था. प्रशासन ने भी स्वयंसेवकों की मेहनत देखी, और वो भी सभी स्वयंसेवकों को देख अपने अपने काम में लग गये.

हौंडा चौक पे पानी और खाने की चीज़ों की काफी दिक्कत हो रही थी, दुकानदारों ने लूट मचा रखी थी,तभी स्वयंसेवको ने हर ज़रूरत की चीज़ लोगों को उपलब्ध कराई, उसके लिये भी लोगो ने तहे दिल से हमारा धन्यवाद किया. कुल मिला कर संगठन में कितनी शक्ति है, इसका एक छोटा सा उदहारण मिला. ईश्वर ऐसी शक्ति हमें देता रहे, और हम समाज के भले के लिये काम करते रहें.

सोमिल कुमार

swayamsewakswayamsewak.swayamsewak..

editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *