गांवों में ही सुरक्षित है हमारी सभ्यता और संस्कृति

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा संघ परिचय यात्रा का आयोजन 

फरीदाबाद (विसंके)। बल्लबगढ़ जिले में संघ परिचय यात्रा का आयोजन किया गया। हाथों में भगवा पताका लिए 262 स्वयंसेवकों का एक जथ्ता 147 बाइकों पर सवार हो कर गाँव चंदावली से शुरू हो कर भारत माता की जय व वंदेमातरम का घोष और देशभक्ति के गीत गाते हुए मच्छगर, दयालपुर, छायंसा, बागपुर, मोहना, हीरापुर, निरयाला, फतेहपुर बिल्लच, डीग, प्याला सीकरी, मलेरना साहूपुरा आदि गांवों से गुजरा।
यात्रा प्रारम्भ करने से पूर्व चंदावली में संघ के सह विभाग संघचालक डा. अरविन्द सूद ने कहा कि गाँव ही हमारी पहचान हैं। हर गाँव में संघ की शाखा लगे, ऐसा प्रयास हम सभी को करना होगा। गाँव छांयसा व बागपुर में संघ के सह प्रान्त बौद्धिक प्रमुख गंगाशंकर मिश्र ने स्वयंसेवकों व ग्रामवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि हमारी प्राचीन सभ्यता, संस्कृति, संस्कार एवं परंपराएं गाँवों में आज भी सुरक्षित हैं। उन्होंने समरस समाज के निर्माण को आज के समय की सबसे बड़ी आवश्यकता बताते हुए कहा कि जब तक हम लोग भिन्न-भिन्न जातियों में बंटे रहेंगे और छोटी-छोटी बातों पर लड़ते झगड़ते रहेंगे, तब तक संपूर्ण राष्ट्र की एकता, अखंडता असुरक्षित रहेगी। इसलिए हम सभी को आपसी मतभेदों व मनभेदों को मिटाकर अपने समाज एवं राष्ट्र को पुनः विश्वगुरु के स्थान पर सुशोभित करना है। मार्ग में मच्छगर, छांयसा, मोहना, फतेहपुर,  सीकरी मलेरना आदि गांवों में ग्रामीणों द्वारा फूल वर्षा कर यात्रा का भव्य स्वागत किया गया। संघ के जिला कार्यवाह संतोष वत्स, सह जिला कार्यवाह गौरीदत्त, जिला बौद्धिक प्रमुख प्रियंक अग्रवाल, जिला शारीरिक प्रमुख कुशलपाल, जिला प्रचार प्रमुख राजेंद्र गोयल आदि जिले के सभी वरिष्ठ कार्यकर्त्ता पूरा समय यात्रा में साथ रहे

स्वयंसेवकों को सम्बोधित करते अधिकारी

गांवों में बाइकों पर यात्रा निकलते स्वयंसेवक

editor1

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *